इरफान ख़ान की ‘अंग्रेजी मीडियम’ को लगा कोरोना वायरस का ग्रहण

Angrezi Medium Box Office: इरफान खान और करीना कपूर की अंग्रेजी मीडियम की कमाई को कोरोना वायरस की नज़र लग गयी है। कोरोना वायरस...

आज का सिनेमा: कैसा, क्यों और कब तक !

कुछ समय पहले जाने-माने अमेरिकी फिल्म निर्देशक मार्टिन स्काॅर्सिस ने मार्वल की सुपरहीरो वाली ‘एवेंजर्स’ फिल्मों पर सवाल खड़ा करते हुए उन्हें सिनेमा से...

Tanhaji: The Unsung Warrior: अजय देवगन की पीरियड ड्रामा फिल्म 300...

Tanhaji On Box Office: धमाकेदार, रोबिले और अपनी एक्टिंग से जलवा बिखरे वाले स्टार एक्टर अजय देवगन की फिल्म 'तानाजी : द अनसंग वारियर'...

सलमान खान का जबरा फैन 600 किमी साइकिल चलाकर मिलने पहुंचा

सेलिब्रिटी से चाहत या कहें कि अपनापन जताने के लिए लोग क्या-क्या नहीं करते. खेल हो या सिनेमा सेलिब्रिटी का जलवा हर जगह कायम...

मधुबाला की शोख अदा आज भी जिंदा है, मुस्कुरा रही है

मधुबाला का नाम जैसे ही लिया जाता है, लगता है उपर वाले ने जिंदा संगमरमर के उस नायाब बुत की ताबिर की हो जिसे...

कर्क डग्लस (1916-2020): विद्रोही महानायक

सौ वर्ष से अधिक की आयु, 60 वर्ष से अधिक लंबा फिल्म करियर, 90 फिल्में, तीन ऑस्कर नामांकन, लाइफटाइम ऑस्कर विजेता, 4 उपन्यास, दो...

‘खामोश’… यही है बिहारी बाबू का परिचय

हिदी सिनेमा जगत में ‘शॉटगन’ और ‘बिहारी बाबू’ नाम से पुकारे जाने वाले शत्रुघ्न सिन्हा किसी परिचय के मोहताज नहीं. अपनी दमदार आवाज और अनूठी अदा से...

धर्मेंद्र ने हेमा मालिनी के लिए दी जितेंद्र को पटखनी

जब बंबई सिनेमा बॉलीवुड नहीं हुआ था, उस समय से सिनेमा के पर्दे पर अपनी रूमानियत बिखेर रहे हैं अपने धरम पाजी. धर्मेंद्र किसी...

‘रोमांसिंग विद लाइफ’… देवानंद

क्या कोई ऐसा भी अभिनेता हो सकता है जो अपने अंतिम सांस तक केवल हीरो ही रहा हो. क्या कोई ऐसा भी अभिनेता हो...

अस्थाना, लकी सिंह और वायरस हमें यूं ही हंसाते रहेंगे

60 साल के उस नौजवान से सिनेमा इंडस्ट्री को आज भी बहुत कुछ सिखने को मिल रहा है. कभी जिंदगी की जद्दोजहद में उसने...

ऐ अजनबी तू भी कभी आवाज़ दे कहीं से…

90 के दशक में जवान हुए किसी भी शख्स के लिए उदित नारायण एक जाना पहचाना नाम हैं. साल 1988 में रिलीज हुई फिल्म...

प्यासा… ये दुनिया अगर मिल भी जाए तो क्‍या है!

वसंत कुमार शिवशंकर पादुकोण, जिन्हें हिंदी सिनेमा जगत गुरुदत्त के नाम से पुकारता है. उन्होंने सिनेमा को उस वक्त सार्थक पहचान दी, जब ज्यादातर...

वी शांताराम थियेटर में कर्टेन पुलर का काम करते थे

हिंदी सिनेमा के जनक दादा साहेब फाल्के के बाद वी शांताराम ऐसे पहले शख्स थे, जिन्होंने भारतीय सिनेमा को एक मजबूत नींव प्रदान की....

जानिए फोटोग्राफी का तकनीकी इतिहास

फोटोग्राफी एक कला है, इसे हम और आप कई बार पढ़ चुके हैं. लेकिन इस सुंदर कला का जन्म कैसे हुआ और कौन-कौन से...

सलीम खान ने खामोशी से अपनी कलम को ताखे पर रख...

आजादी के बाद की फिल्मों में एक रूमानियत हुआ करती थी. नेहरू काल में राजकपूर, देवानंद और दिलीप कुमार जैसे अभिनेता पर्दे पर समाजवाद...

क्या है फोटोग्राफी, कैसे बने बेहतर फोटोग्राफर

हम अपनी यादों को कितनी हिफाजत से सहेजते हैं. खट्टी-मिठी यादों के हर लम्हे को कैद कर लेते हैं हम, बस एक क्लीक से...

मनोरंजन के बरक्स खड़े समानांतर सिनेमा की कहानी

इंडियन पैरेलल सिनेमा यानी जिसे हम भारतीय समानांतर सिनेमा भी कहते हैं. ये सिनेमा निर्माण की वो विधा थी, जो अंतरराष्ट्रीय सिनेमा खासकर इटैलियन...

प्रेमनाथ: ‘सर जूडा’ का कैरेक्टर आज भी याद है लोगों को

साल 1947 में आजादी के बाद सिनेमा भी जवान होने लगा. देवानंद, दिलीप कुमार और राजकपूर अपने अंदाज से फिल्म के नए कलेवर को...

राजकुमार हिरानी, पर्दे पर सिनेमा को गढ़ने वाले असली हीरो

सिनेमा एक ऐसी विधा है, जिसे गढ़ना या बनना आसान नहीं होता. दरअसल सिनेमा हमारे समाज का आईना होता है, जसमें हमें वो सब...

सलिल चौधरी के कारण लता मंगेशकर को मिला पहला फिल्मफेयर

मन में कई बार एक सवाल कौंधता है कि आखिर बंगाल की मिट्टी में ऐसा क्या है कि जिसने विज्ञान, कला, साहित्य और सिनेमा...