बॉलीवुड को इस कोरोनाकाल में हुआ करोड़ों का नुकसान, पिछले साल के मुक़ाबले आधे का भी फायदा नहीं

2020 का लगभग आधा साल यानी 6 महीने बीत गए। कोरोना वायरस नें सभी के काम-काज पर ताला गया दिया। इस लॉक डाउन के कारण जहां मजदूरों का इतनी बड़ी संख्या में पलायन हो गया वहीं बॉलीवुड जैसी बड़ी इंडस्ट्री का भी अच्छा खासा नुकसान हो गया है।

मार्च में लॉक डाउन से पहले ही थिएटर में ताला लग गया था। आख़िरी फिल्म जो रिलीज़ हुई थी वो इरफ़ान खान की ‘अँग्रेजी मीडियम’ थी। ये फिल्म भी कोरोना के डर से चल नहीं पाई थी। न ही ज़्यादा कमाई कर पाई।

2019 में जहां छोटी से लेकर बड़ी फिल्मों ने कमाई की वहीं यह साल बॉलीवुड के लिए नुकसान का साल रहा। अगर इस नुकसान का अंदाज़ा लगाए जाए तो लगभग 1,000 करोड़ का नुकसान पिछले छह महीनों में हो चुका है।

इस नुकसान का अंदाज़ा हम इस बात से भी लगा सकते हैं कि तकरीबन 100 दिन तक एक भी फिल्म रिलीज़ नहीं हुई।

यह दो बड़ी फिल्में होने वाली थी रिलीज़
मार्च में ‘सूर्यवंशी’ और ‘राधे’ बॉक्स ऑफिस पर रिलीज़ होने वाली दो बड़ी फिल्में थी लेकिन नहीं हो पाई। फिल्मों के निर्माता अभी भी इस इंतज़ार में कि इन परिस्थितियां ठीक होने पर इन्हें मल्टीप्लेक्स में रिलीज़ किया जाए।

ट्रेड एक्सपर्ट के अनुसार
ट्रेड एक्सपर्ट के अनुसार यदि यह दोनों फिल्में सूर्यवंशी और राधे बड़े पर्दे पर रिलीज़ होती तो 200 करोड़ का व्यवसाय करती।
2020 में सिर्फ दो ही बड़ी फिल्में पर्दे पर रिलीज़ हो पाई ‘बाग़ी 3’ और ‘तानहाजी’। जहां अजय देवगन कि फिल्म तानहाजी ने 280 करोड़ कि कमाई की वहीं टाइगर की फिल्म ने उम्मीद से कम कमाई की और सिर्फ 92 करोड़ का कलेक्शन किया।

2020 में आई फिल्में
बाग़ी 3 और तान्हाजी के अलावा 2020 में तापसी पन्नू की ‘थप्पड़’ करीना कपूर और अक्षय कुमार की ‘गुड न्यूज़’ दीपिका पादुकोण की ‘छपाक’, सारा अली खान की ‘लव आज कल 2’, आयुष्मान खुराना की ‘शुभ मंगल ज़्यादा सावधान ‘और विक्की कौशल की ‘भूत’ ने भी कोई बिग ऑफिस पर अपनी कोई छाप नहीं छोड़ी।

विशेषज्ञों का कहना है कि 1,000 करोड़ का नुकसान जिस तरह इस साल की छमाही में हो गया है उस हिसाब से बॉलीवुड अपने पिछले साल के कलेक्शन से बहुत पीछे हो जाएगा। जहां पिछले साल पहले छमाही की कमाई 2,400 करोड़ थी वहीं इस साल यह कमाई घट कर सिर्फ 750 करोड़ रह गयी है।