हास्य अभिनेता जगदीप का 81 वर्ष की उम्र में निधन, अजय देवगन, जॉनी लीवर ने दी श्रद्धांजलि

जगदीप ने बीआर चोपड़ा की फ़िल्म अफसाना से बतौर बाल कलाकार अपने फिल्मी करियर की शुरुआत की थी।

comedian jagdeep
जगदीप ने 400 से ज्यादा फ़िल्मों में अभिनय किया था।

हिन्दी फ़िल्मों के सर्वश्रेष्ठ हास्य अभिनेताओ में शुमार किये जाने वाले जगदीप का आठ जुलाई को 81 वर्ष की उम्र में निधन हो गया। जगदीप का असली नाम सैयद इश्तियाक़ अहमद जाफ़री था। उनका जन्म 29 मार्च 1939 को हुआ था।

जगदीप को सबसे ज्यादा ख्याति रमेश सिप्पी की फ़िल्म शोले (1975) में सूरमा भोपाली की भूमिका से मिली। अमिताभ बच्चन, धर्मेंद्र, संजीव कुमार, जया भादुड़ी, हेमा मालिनीअसरानी और जगदीप जैसे कलाकारों से सजी यह फ़िल्म भारतीय फिल्म इतिहास की सबसे सफल फिल्मों में शुमार की जाती है।

जगदीप ने  बीआर चोपड़ा की 1951 में बनी फिल्म ‛अफसाना’ में बतौर बाल कलाकार से बॉलीवुड में प्रवेश किया फिर  दो बीघा जमीन (1953), आर पार (1954), हम पंछी एक डाल के(1957), शोले (1975), पुराना मंदिर (1984), शंहशाह (1988), सूरमा भोपाली(1988), निगाहें (1989), क्रोध (1990), जमाई राजा(1991), फूल और  कांटे (1991), सनम बेवफा (1991), अंदाज अपना अपना (1992), कर्तव्य (2005), चाइना गेट (1998), रिश्ते (2002), परवाना (2003), बॉम्बे टू गोआ (2007), गली गली चोर (2012) सहित 400 से अधिक फिल्में की।

सूरमा भोपाली नाम से जगदीप इतने मशहूर थे कि जब उन्होंने डायरेक्शन में हाथ आजमाने की ठानी तो इसी नाम ‘सूरमा भोपाली’ से फ़िल्म बनायी। जगदीप ने इस फ़िल्म में अभिनय भी किया। हालाँकि यह फ़िल्म बॉक्स ऑफिस पर कोई कमाल नहीं दिखा सकी।

जगदीप के बेटे जावेद जाफरी मशहूर एक्टर हैं। उनके दूसरे बेटे नावेद जाफरी भी मशहूर टीवी प्रोड्यूसर और डायरेक्टर हैं। जगदीप ने दो शादियाँ की थीं जिनसे उनके तीन बेटे और दो बेटियाँ थीं।

अजय देवगन ने दी जगदीप को श्रद्धांजलि

जगदीप के निधन से शोकाकुल अजय देवगन ने ट्विटर पर उन्हें श्रद्धांजलि दी। अजय ने अपने ट्वीट में लिखा, “जगदीप साहब के निधन की दुखद ख़बर सुनी। उन्हें पर्दे पर देखना हमेशा आनन्ददायक होता था। उन्होंने जनता को ढेरों खुशियाँ दीं। जावेद और उनके परिवार के सभी सदस्यों के प्रति मेरी गहरी संवेदनाएँ। उनकी आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना है।”

हास्य अभिनेता जॉनी लीवर ने जगदीप को श्रद्धांजलि देते हुए ट्विटर पर बताया कि उन्होंने पहली फ़िल्म जगदीप सहाब के साथ ही की थी। जॉनी लीवर ने जगदीप को एक लीजेंड बताते हुए उनके परिजनों के प्रति संवेदनाएँ व्यक्त की हैं।