कंगना रनौत ने सीएम उद्धव ठाकरे पर साधा निशाना, कहा- विश्व के बेस्ट सीएम जनता से सबूत मांग रहे हैं

सुशांत सिंह राजपूत के अत्महत्या केस में कहा महाराष्ट्र के सीएम को जनता से मांगनी पद रही है सबूत।

सुशांत सिंह राजपूत के मौत के बाद कंगना रनौत लगातार उस पर बोल रही है। उन्होने बॉलीवुड के नेपोटिज़्म से लेकर गुटबाजी जैसे मुद्दों पर अपनी बेबाक राय रखी। अब कंगना ने महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे पर निशाना साधा है। सुशांत सिंह राजपूत के आत्महत्या केस में पहली बार महराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे ने सार्वजनिक बयान जारी किया जिस पर कंगना रनौत ने उनपर तंज कसते हुए एक ट्वीट किया। सुशांत सिंह राजपूत 14 जून को मुंबई स्थिhttps://filmbibo.com/entertainment-news/kangana-ranaut-c…uddhav-thackeray/त फ्लैट पर मृत पाये गये थे।

उद्धव ठाकरे के बयान पर कंगना ने अपने एक ट्वीट में कहा, ” विश्व के बेस्ट सीएम को जनता से सबूत मांगने कि ज़रूरत पड़ रही है। मुंबई पुलिस न क्राइम साइट को सील कर रही है न ही बाल या फिंगर प्रिंट्स के सैंपल जांच के लिए इकट्ठा किया। लेकिन मूवी माफ़िया के बेस्ट सीएम हमसे सबूत चाहते हैं।”

कंगना एक के बाद एक तीन ट्वीट किए सुशांत सिंह राजपूत आत्महत्या केस को लेकर। एक ट्वीट में उन्होंने कहा की कंगना को चुप करने के लिए बहुत कुछ किया जा रहा है। मूवी माफ़िया और पॉलिटिक्स माफ़िया दोनों ने अपने हाथ जोड़ लिए हैं इस मर्डर केस में। ये अंदाज़ा लगा रहे हैं कंगना को किसी भी चीज़ से डराया नहीं जा सकता, यहाँ तक कि मौत से भी नहीं। इसलिए ऐसे छोटे-मोटे ट्रिक्स की ज़रूरत नहीं है।


कंगना ने अपने अगले ट्वीट में लिखा कि सुशांत सिंह राजपूत के परिवार और दोस्त समिता ने इस बात की पुष्टि की है कि उनका बॉलीवुड उद्योग में उनका दम घुटता था और वो लगातार कहते थे कि ये लोग मुझे मार देंगे और दुनिया से सबसे बेहतर सीएम ने इस मर्डर को आत्महत्या कह दिया। और मूवी माफ़िया ने सुशांत के मानसिक रूप से बीमार होने का अभियान चला दिया।

आपको बता दें कि सुशांत सिंह राजपूत के आत्महत्या केस में महाराष्ट्र के सीएम ने ट्वीट कर कहा था कि ”मैं उन लोगों कि निंदा करना चाहूँगा जो पुलिस कि क्षमता पर सवाल उठा रहे हैं। मुंबई पुलिस अक्षम नहीं है। यदि किसी के पास भी इस केस से संबन्धित कोई भी सबूत है तो वो हमारे पास ल सकते हैं हम उससे पूछताछ करेंगे और गुनहगार को सज़ा दिलवाएँगे।”

उद्धव ठाकरे ने अपनी बात में आगे यह भी कहा कि मामले में राजनीति लाना सबसे अधिक दु:खद बात है। ”कृपया इस मामले का उपयोग दो राज्यों महाराष्ट्र और बिहार के बीच टकराव लाने के लिए न करें।

उद्धव ठाकरे ने यह टिप्पणी महाराष्ट्र के पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस की जांच की मांग पर की। फडणवीस ने कल सुशांत सिंह राजपूत के मामले में कहा कि इस केस को ED को को जांच के लिए देना चाहिए।

ठाकरे ने आए कहा कि विपक्ष इंटरपोल या नमस्ते ट्रंप के फॉलोअर्स को भी जांच के लिए ला सकता है। देवेंद्र फडणवीस को समझना चाहिए कि यह वही पुलिस है जिसके साथ उन्होंने पांच साल काम किया है. यह वही पुलिस है जिसने कोरोना के साथ लड़ाई के दौरान कई बलिदान दिए हैं।