प्रवर्तन निदेशालय ने रिया चक्रवर्ती को भेजा समन, 7 अगस्त तक पेश होने को कहा

Rhea_Chakraborty
रिया को भायखला के जेल में डाल दिया गया है.

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की 14 जून को उनके मुंबई स्थित बांद्रा के अपार्टमेंट में मौत हो गई. इस मौत में संदेह के चलते मुंबई पुलिस जांच कर रही थी. 50 से अधिक लोगों का बयान भी दर्ज करवाया जा चुका है. लेकिन अबतक सच्चाई सामने नहीं आई. इस मामले को केंद्र ने सीबीआई को ट्रांसफर कर दिया है.

रिया चक्रवर्ती के खिलाफ दर्ज धोखाधड़ी के मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने समन जारी किया है. समन में ईडी ने रिया चक्रवर्ती को शुक्रवार यानी 7 अगस्त को ई़डी के सामने पेश होने के लिए कहा है.

प्रवर्तन निदेशालय के मुताबिक रिया चक्रवर्ती से पूछताछ की जाएगी और उनके बयान को धन शोधन रोकथाम अधिनियम (पीएमएलए) के तहत दर्ज किया जाएगा. सबसे पहले रिया से उनके घर का पूरा पता, परिवार के बारे में, पिता का नाम जैसे पर्सनल डिटेल्स लिए जाएंगे.

इसके अलावा रिया के कंपनी का टर्नओवर, उनकी कुल जायदाद, बैंक खाते की डिटेल्स ली जाएगी. साथ ही सुशांत से जुड़े सवाल पूछे जाएंगे.

बता दें सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले की जांच केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) को सौंप दी गई है .केंद्र सरकार की तरफ से सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने सुप्रीम कोर्ट को बताया कि बिहार सरकार ने सुशांत मामले में सीबीआई की जांच की सिफारिश की थी. केंद्र ने उनकी सिफारिश को स्वीकार किया और जांच को सीबीआई के हवाले कर दिया.

इसके अलावा सुप्रीम कोर्ट में अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती की उस याचिका पर सुनवाई हुई, जिसमें  पटना में दर्ज केस को मुंबई स्थानांतरित करने की बात कही गई थी. इस पर सुप्रीम कोर्ट ने रिया को प्रोटेक्शन देने से इनकार कर दिया है.

कोर्ट ने कहा कि हमने एक बेहतरीन अभिनेता खो दिया है. सुशांत की मौत के मामले की सच्चाई सबके सामने आनी चाहिए. सही तरीके से जांच होना चाहिए.

बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे ने भी आरोप लगाया है कि मुंबई पुलिस ने सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले की जांच फाइनेंशियल एंगल से नहीं की. उनका कहना है कि पिछले चार साल में सुशांत के खाते से 50 करोड़ रुपए निकाले गए. 15 करोड़ रुपए तो पिछले एक साल में निकाले गए.

उन्होंने आगे कहा कि चार साल में सुशांत के खाते में लगभग 50 करोड़ रुपए क्रेडिट हुए थे. हैरत की बात यह है कि यह पूरी की पूरी रकम निकाल ली गई. पिछले एक साल में उनके खाते में 17 करोड़ रुपए जमा हुए, जिसमें से 15 करोड़ रुपए निकाल लिए गए. क्या इस बिंदु से जांच नहीं होनी चाहिए? हम चुप बैठने वाले नहीं हैं. हम मुंबई पुलिस से सवाल करेंगे कि इस लीड को क्यों छोड़ा गया?

वे कहते हैं ”रिया चक्रवर्ती हमारे संपर्क मे नहीं हैं. वो फरार हैं, वो सामने नहीं आ रही हैं. हमारे पास इस बारे मे भी कोई जानकारी नहीं है कि वो मुंबई पुलिस के संपर्क मे भी हैं या नहीं.”

इससे पहले सुशांत सिंह की मौत के मामले में अभिनेत्री रिया पर लगे धोखाधड़ी के मामले में ईडी यानी प्रवर्तन निदेशालय  ने सुशांत के मनी लॉन्ड्रिंग मामले की जांच के सिलसिले में रिया चक्रवर्ती के चार्टर्ड अकाउंटेंट रितेश शाह से पूछताछ की थी.

प्रवर्तन निदेशालय के मुताबिक़ रितेश से रिया और रिया के भाई के स्वामित्व वाली कंपनियों के बारे में पूछताछ की थी. इसके अलावा ईडी ने सोमवार को मुंबई में सुशांत के चार्टर्ड अकाउंटेंट संदीप श्रीधर से वित्तीय लेनदेन के बारे में पूछताछ की थी.

सुशांत के पिता के. के. सिंह ने रिया के खिलाफ बिहार पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी. सुशांत के परिवार ने जो रिया चक्रवर्ती के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कराया है, उसके मद्देनजर ईडी यह कार्यवाई कर रही है.

प्रवर्तन निदेशालय कुल 15 करोड़ रुपये के लेनदेन के मामले की जांच कर रही है, जो कथित तौर पर सुशांत सिंह की ‘आत्महत्या’ से संबंधित है.

ईडी के मुताबिक़ बिहार पुलिस के पास दर्ज सुशांत मामले की प्राथमिकी में रिया और उसके परिवार के सदस्यों का नाम शामिल है.

प्रवर्तन निदेशालय ने कहा कि एजेंसी आने वाले दिनों में सुशांत मामले में पूछताछ के लिए कई लोगों को तलब करेगी. इससे पहले ईडी ने बैंकों से सुशांत और रिया के परिवार की दो कंपनियों का ब्योरा मांगा था.

इसके अलावा ईडी ने बिहार पुलिस के पास रिया चक्रवर्ती के खिलाफ दर्ज की गई एफआईआर की कॉपी मांगी है. ईडी ने विव्रिडेज रियलिटिक्स के वित्तीय लेन-देन के विवरण भी मांगे हैं, जिसकी  निदेशक रिया चक्रवर्ती हैं. इसके साथ ही फ्रंट इंडिया फॉर वर्ल्ड की जानकारी भी मांगी गई है, जिसमें रिया के भाई शोविक निदेशक हैं.