सुशांत की मौत के मामले में रिया को हिरासत में लेकर पूछताछ कर सकती है CBI

रिया के वकील सतीश मानेशिंदे का कहना है कि सीबीआई ने रिया को अब तक समन नहीं भेजा है. जब भी सीबीआई नोटिस भेजेगी, रिया पूछताछ के लिए जाएंगी.

रिया, लगातार अपने बयान बदल रही हैं.
रिया, लगातार अपने बयान बदल रही हैं.

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले की छानबीन सीबीआई की टीम कर रही है. सीबीआई अब रिया के भाई शौविक जक्रवर्ती से पूछताछ कर रही है. इससे पहले सुशांत के दोस्त सिद्धार्थ पिठानी, स्टाफ दीपेश सावंत और सुशांत के कुक नीरज से पूछताछ कर चुकी है.

इस मामले में रिया चक्रवर्ती को हिरासत में लेकर पूछताछ हो सकती है. सुशांत सिंह राजपूत के पिता के वकील विकास सिंह ने कहा कि रिया चक्रवर्ती इस मामले में मुख्य आरोपी हैं, इसलिए सीबीआई उसे हिरासत में लेकर पूछताछ कर सकती है.

सुशांत के पिता के वकील विकास सिंह का कहना है कि सीबीआई की तरफ से रिया को समन भेजा जाएगा. उन्हें पूछताछ के लिए सीबीआई का सहयोग करना होगा. अगर रिया सहयोग नहीं करेंगी तो उन्हें गिरफ्तार किया जा सकता है.सीबीआई इस मामले से जुड़े सारे सबूत इकट्ठा करने के बाद रिया से पूछताछ करेगी.

आगे कहते हैं कि जल्द ही सीबीआई रिया से पूछताछ करेगी. रिया अगर सहयोग करने से मना करेंगी तो उनकी गिरफ्तारी भी हो सकती है. सुशांत मामले की जांच सही दिशा में जा रहा है.

इस पर रिया के वकील सतीश मानेशिंदे का कहना है कि सीबीआई ने रिया को अब तक समन नहीं भेजा है. जब भी सीबीआई नोटिस भेजेगी, रिया पूछताछ के लिए जाएंगी.

आगे कहते हैं “हमने पहले ही कह दिया था कि रिया सुशांत मामले में सीबीआई का सहयोग करेंगी.”

इसी बीच सीबीआई पूछताछ के लिए मुंबई के कूपर अस्पताल पहुंची है. जिन डाॅक्टरों ने सुशांत का पोस्टमाॅर्टम किया था, उन सभी डाॅक्टरों से पूछताछ जारी है. सुशांत की पोस्टमाॅर्टम रिपोर्ट को लेकर बड़ा खुलासा हुआ. सीबीआई के पूछताछ के दौरान सुशांत की अटाॅप्सी करने वाले एक डाॅक्टर ने बताया कि सुशांत का पोस्टमाॅर्टम जल्दीबाजी में किया गया. आगे बताया कि ऐसा मुबंई पुलिस के कहने पर किया गया था.

सुशांत की पोस्टमाॅर्टम रिपोर्ट को लेकर अब तक संदेह बना हुआ है. उनकी गर्दन के निशान को लेकर कई सवाल उठ रहे हैं. इसके अलावा पोस्टमाॅर्टम रिपोर्ट में मौत का समय भी नहीं लिखा गया है. लापरवाही बरती गई है.

एप्सपर्ट्स का कहना है कि आत्महत्या में आंखें और जीभ बाहर आ जाती हैं, लेकिन सुशांत में ऐसा कुछ नहीं दिखा. उनके मुताबिक सुशांत की हत्या की गई है.

कुछ दिन पहले ही सुशांत केस के वकील विकास सिंह ने कल कहा था कि रिया चक्रवर्ती को आखिर किस हैसियत से मुंबई पुलिस ने पोस्टमार्टम से पहले शवगृह जाने की इजाजत दी थी. विकास सिंह ने सवाल उठाया है कि क्या रिया चक्रवर्ती वहां सुबूतों के साथ छेड़छाड़ करने गयीं थीं.

इसके अलावा रिया चक्रवर्ती और महेश भट्ट के व्हाट्‌सएप चैट पर भी सवाल उठाए हैं. रिया चक्रवर्ती ने कोर्ट में कहा था कि वह सुशांत से प्यार करती थी और उसके जाने के बाद उन्हें लगातार प्रताड़ित किया जा रहा है. लेकिन रिया और महेश भट्ट का जो व्हाट्‌सएप चैट लीक हुआ है, उससे ऐसा प्रतीत होता है कि रिया कोर्ट में झूठ बोल रही थीं.  अब रिया और महेश भट्ट के बीच रिश्तों को लेकर भी सवाल उठ रहे हैं.

सुशांत 14 जून को अपने घर में मृत पाये गये थे. काफी विवाद के बाद सुप्रीम कोर्ट ने मामले की जांच सीबीआई को सौंप दी है और वे इस केस की जांच कर रहे हैं.

बता दें उच्चतम न्यायालय ने बुधवार को राजपूत मामले में पटना में दर्ज प्राथमिकी को सीबीआई को स्थानांतरित करने के बिहार सरकार के फैसले को स्वीकार कर लिया. अब इस मामले की छानबीन करने का काम सीबीआई करेगी.

जस्टिस ऋषिकेश रॉय ने फैसला सुनाते हुए कहा कि जांच में जनता का विश्वास सुनिश्चित करने और मामले में पूर्ण न्याय सुनिश्चित करने के लिए यह न्यायालय संविधान के अनुच्छेद 142 द्वारा प्रदत्त विशेष शक्तियों को लागू करना उचित समझती है. कोर्ट ने विशेष शक्ति का प्रयोग करते हुए केस को सीबीआई के हाथों में सौंपने का फैसला किया है.

जस्टिस ऋषिकेश रॉय कहते हैं “मुंबई पुलिस को सुशांत मामले में जांच करने का पूरा अधिकार था. लेकिन, किसी भी तरह की असमंजस की स्थिति से बचने के लिए सीबीआई को केस सौंपा गया है. यह अधिकार अनुच्छेद 142 के तहत हमें मिला है.”
वह आगे कहते हैं, “अब किसी भी राज्य की पुलिस को इसमें हस्तक्षेप करने की इजाजत नहीं है. अब यह मामला सिर्फ सीबीआई देखेगी. सीबीआई पटना एफआईआर के साथ ही राजपूत की मौत के मामले से जुड़ी किसी अन्य एफआईआर की जांच करने में सक्षम होगी.”

शिवसेना नेता परब ने कहा कि उच्चतम न्यायालय ने अभी तक मुंबई पुलिस द्वारा की गयी जांच में कोई त्रुटि नहीं पाई है. आगे कहा कि महाराष्ट्र सरकार का यह कहना था कि मामले को मुंबई स्थानांतरित किया जाए क्योंकि यह उसके अधिकार क्षेत्र का मामला है. अब राज्य सरकार इस बारे में फैसला करेगी कि पुनर्विचार याचिका दाखिल की जाए या नहीं.

आपको बता दें, अभिनेता सुशांत सिंह की 14 जून को उनके मुंबई स्थित बांद्रा के अपार्टमेंट में मौत हो गई थी. इसकी जांच मुंबई पुलिस कर रही थी. अब यह मामला सीबीआई को सौंप दिया गया है.

सुशांत के पिता के. के. सिंह ने रिया के खिलाफ बिहार पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी. सुशांत के परिवार ने जो रिया चक्रवर्ती के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कराया, उसके मद्देनजर ईडी यह कार्यवाई कर रही है. कुल 15 करोड़ रुपये के लेनदेन के मामले की जांच कर रही है.

अभिनेता की मौत से पहले सुशांत और रिया एक रिश्ते में थे. सुशांत के पिता ने रिया के खिलाफ कई आरोप लगाए थे, जिसमें उनके बेटे से पैसे लेना और मीडिया को उसकी मेडिकल रिपोर्ट का खुलासा करने की धमकी देना भी शामिल है. सुशांत के परिवार ने रिया पर सुशांत को उनसे दूर रखने का भी आरोप लगाया था.