फ़िल्म ‘बंदिश बैंडिट्स’ के कलाकारों ने लाइव कॉन्सर्ट में मचाया धमाल, निर्देशक आनंद ने कहा- फ़िल्म की पटकथा बेहतरी है

वेब सीरीज ‘बंदिश बैंडिट्स’ 4 अगस्त को अमेजन प्राइम पर रिलीज़ हुई है. इस फ़िल्म के निर्देशक आनंद तिवारी हैं.

निर्देशक आनंद तिवारी के निर्देशन में बनी वेब सीरीज ‘बंदिश बैंडिट्स’ 4 अगस्त को अमेजन प्राइम वीडियो पर रिलीज हुई. फ़िल्म को दर्शकों ने काफ़ी प्यार दिया. इस फ़िल्म की संगीत लोगों को ख़ूब पसंद आया.

फ़िल्म के संगीत के प्रति लोगों का प्यार देखकर फ़िल्म के कलाकारों ने सभी संगीत प्रेमियों के लिए एक लाइव ‘बंदिश बैंडिट्स’ कॉन्सर्ट का आयोजन किया. इस कार्यक्रम को अमेजन प्राइम वीडियो पर लाइव दिखाया गया.

यह लाइव कॉन्सर्ट वास्तव में उन सभी के लिए एक वर्चुअल ट्रीट की तरह था, जो इस फ़िल्म के संगीत को लाइव सुनना चाहते थे. इस कार्यक्रम में मौजूद दर्शकों ने सुंदर गानों की उम्दा पेशकश का लुत्फ उठाया.

समारोह की शुरूआत मैम खान के कुछ लोक संगीत के मधुर राग मल्हार के साथ की गई. जिसके बाद शंकर महादेवन ने ‘पधारो मारे देश’ के साथ सभी की अंतरात्मा को अलग स्तर पर पहुंचा दिया.

इसके बाद जोनिता गांधी ने ‘बंदिश बैंडिट्स’ के ‘मस्तियापा’ गाने के साथ इस माहौल को अधिक मस्तमौला बना दिया. और इसके तुरंत बाद, अरमान मलिक ने जोनिता के साथ मिलकर शो के सुखदायक गीत ‘कपल गोल्स’ में सुर से सुर मिलाए. सभी ने अपनी सुंदर सुरीली आवाज़ से लोगों का दिल जीत लिया.

सिंगर लिसा मिश्रा ने ‘वीरे दी वेडिंग’ से ‘तारिफां’ गाया और फिर गिटार पर अपना करिश्मा दिखाया. साथ ही ‘नई चाईदा’ को गुनगुना कर सभी का दिल जीत लिया.

प्रतीक कुहाड़ ने गिटार बजाते हुए गीत ‘तूने कहा’ पर परफॉर्मेंस के साथ लिसा का बखूबी साथ दिया. जिसके बाद, प्रतीक अपने सबसे लोकप्रिय गीतों में से एक ‘कसूर’ के साथ सुर सजाते हुए नजर आए.

इस समारोह में शंकर-एहसान-लॉय ने भी फिल्म ‘दिल चाहता है’ से ‘कोई कहे’ पर अपनी परफॉर्मेंस से चार चाँद लगा दिए. उन्होंने इस गाने की यादें ताज़ा करते हुए बताया कि उन्होंने इस गाने को लोनावाला की ट्रिप जाते समय लिखा था.

कॉन्सर्ट को अंतिम रूप देने से पहले, शिवम महादेवन और प्रतिभा सिंह बघेल ‘बंदिश बैंडिट्स’ के गीत ‘छेडखानियां’ और ‘साजन बिन’ गुनगुनाकर तिकड़ी का साथ देते हुए नजर आए.

समारोह के समापन से पहले फ़िल्म के निर्देशक आनंद ने फ़िल्म की शूटिंग से जुड़ी दिलचस्प बातें साझा कीं. उन्होंने कहा कि शूटिंग के दौरान कई तरह की नई चीजें सीखने को मिलीं.

आगे कहते हैं  “यह फ़िल्म बेहद ख़ूबसूरत है. फिल्म के संगीत में बहुत ही मिठास है. इस फ़िल्म की पटकथा बहुत ही अच्छी है. फ़िल्म को हर किसी को एक बार ज़रूर देखनी चाहिए.”

कलाकार ऋत्विक भौमिक और श्रेया चौधरी ने भी अपने काम करने का अपना अनुभव साझा किया. श्रेया ने बताया कि प्रतीक कुहाड़ उनके पसंदीदा गायक हैं जबकि ऋत्विक ने बताया कि उन्हें लिसा मिश्रा की गायिकी पसंद है.

यह कॉन्सर्ट सभी संगीत प्रेमियों के लिए एक तोहफ़े की तरह था. इस म्यूजिकल ड्रामा को पसंद करने वाले सभी दर्शकों के बीच हिट साबित हुआ है. कलाकारों का बातें और गानों की उम्दा पसंद बेहद मजेदार थी, जिसे हर किसी ने खूब एन्जॉय किया.

‘बंदिश बैंडिट्स’ में राधे और तमन्ना नाम के एक कैरेक्टर्स की कहानी पेश की गई है. जिन्हें किस्मत एक दूसरे से मिलवाती हैं. संगीत के माध्यम से जुड़ते हैं. अपना सर्वश्रेष्ठ बैंड बनाते हैं. एक दूसरे को बेहद मोहब्बत करने लगते हैं, लेकिन विरासत उन्हें एक दूसरे से अलग कर देती हैं.

इस फ़िल्म को डायरेक्ट किया है निर्देशक आनंद तिवारी ने. फ़िल्म के निर्माता अमृतपाल सिंह बिंद्रा हैं.

फ़िल्म में अभिनेता ऋत्विक भौमिक ने राधे का किरदार निभाया है, जो जोधपुर के शाही घराना से संबंधित एक महत्वाकांक्षी शास्त्रीय गायक है.

फ़िल्म में अभिनेत्री श्रेया चौधरी ने तमन्ना का किरदार निभाया है, जो हिंदुस्तान की पहली अंतर्राष्ट्रीय पॉप स्टार बनने की चाहत रखती हैं. वहीं मशहूर अभिनेता नसीरुद्दीन शाह  ‘संगीत सम्राट’ की भूमिका में नज़र आ रहे हैं.

फ़िल्म में अतुल कुलकर्णी, कुणाल रॉय कपूर, शीबा चड्ढा और राजेश तैलंग जैसे बेहतरीन कलाकार भी नज़र आ रहे हैं.