उर्वशी रौतेला ने सात साल पहले सनी देओल की हीरोइन के तौर पर फिल्म ‘सिंह साहब द ग्रेट’ से हिंदी सिनेमा में डेब्यू किया था. अपनी नई फिल्म के साथ इस लॅाकडाउन में धूम मचाने को तैयार हैं।

उनकी नई फिल्म ‘वर्जिन भानुप्रिया’ को दर्शक खूब पसंद कर रहे हैं। ‘वर्जिन भानुप्रिया’ हिंदी सिनेमा और समाज में लड़कियों को लेकर पुराने खयालात के स्टीरियोटाइप को तोड़ने वाली फिल्म हैं।

बहुत समय बाद उर्वशी के खाते यह एक बेहतरीन फिल्म आई है।

आज की तारीख में हिंदी सिनेमा मे दर्शकों को दुरूह विषयों पर हिंदी फिल्में पसंद आ रही हैं।

उर्वशी रौतेला ने इस बार अपनी अन्य फिल्मों की कहानी कि तुलना में लीक से हटकर कहानी चुनी है। फिल्म में उनके किरदार की चुप्पी और उनके चेहरों के भावों ने अपना काम बहुत उम्दा तरीके से किया है।

एडल्ट दर्शकों के लिए है फ़िल्म

याद रखिए कि यह फिल्म सिर्फ वयस्कों के लिए है। यह बात ओटीटी प्लेटफॉर्म ने खुद फिल्म के साथ बता रखी है तो ज्यादा उत्साह में आकर इसे घर के स्मार्ट टीवी पर बच्चों के सामने न चलाएं।

फिल्म की कहानी में एक मिडिल क्लास 20 साल की लड़की के इर्द-गिर्द घूमती है, जिसका नाम भानुप्रिया है। जो अपने लव पार्टनर का प्यार पाने को बेताब है लेकिन हर बार उसे इस मामले में निराशा ही मिलती है।

भानु अपने दोस्त रूकुल से रिलेशनशिप हर चीज़ पर हमेशा सलाह लिया करती थी। लेकिन आखिर में उसे असफलता ही मिलती थी।

लेकिन आखिर में भानु एक लड़के अभिमन्यु से मिलती है। उससे मिल कर भानु को ऐसा लगता है के यही वह सपनों का राजकुमार है जिसके साथ वह रिलेशनशिप में आ सकती है, लेकिन क्या ऐसा हो पाता है?

फिल्म में एक लड़की के किसी लड़के के साथ शारीरिक संबंध बनाने में आनेवाली दिक्कतों को दिखाया गया है। फिल्म का मूल विचार बहुत बेहतरीन है और इसके कलाकारों ने स्क्रिप्ट के हिसाब से अपना काम भी बढ़िया किया है। लेकिन, ऐसे विचार पर एक अच्छी पटकथा की जरूरत फिल्म देखते समय महसूस होती है।

फिल्म के डायरेक्टर अजय लोहाण ने भानु और उसके पिता विजय के बीच के संवाद उस स्थिति की झलक को दिखाया है, जिसमें पुरानी पीढ़ी का कोई पिता जब आज की पीढ़ी के हिसाब से खुद को बदलने की कोशिश करता है तो कैसा हास्य उत्पन्न होता।

गीत-संगीत और तकनीकी पक्ष फिल्म को थोड़ा-सा कमजोर करते हैं।

 

निर्माता: श्रेयांश महेंद्र धारीवाल

निर्देशक: अजय लोहाण

कलाकारः उर्वशी रौतेला, गौतम गुलाटी, अर्चना पूरण सिंह, डेलनाज ईरानी, राजीव गुप्ता, बृजेंद्र काला, नताशा सूरी, सुमित गुलाटी इत्यादि

चेतावनीः 18 वर्ष से बड़ी उम्र वाले ही देखें

ओटीटी प्लेटफॉर्म: Zee5